हाथरस पीड़िता के चरित्र पर सवाल उठाने वालों पर भड़की प्रियंका, कहा: न्याय चाहिए अपमान नहीं

0
18

हाथरस पाड़िता पर सवाल खड़े करने वालों को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने लताड़ा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, “पीड़िता के शव को उसके परिवार की सहमति के बिना जला दिया गया। उसे इंसाफ देने की जरूरत न कि बदनाम करने की। एक कहानी बताकर महिला के चरित्र पर उंगलियां उठना, अपराध के लिए उसे जिम्मेदार ठहराना गलत है। हाथरस में एक जघन्य अपराध हुआ, जिसमें एक 20 वर्षीय दलित महिला की मौत हो गई।”

इससे पहले 3 अक्टूबर को प्रियंका गांधी हाथरस के पीड़ित परिवार से मुलाकात की थी। परिवार से मुलाकात के बाद प्रियंका गांधी ने कहा था कि परिवार आखिरी बार अपनी बच्ची का चेहरा तक नहीं देख पाया। प्रियंका ने कहा कि परिवार इस घटना की न्यायिक जांच और जिलाधिकारी को हटाना चाहता है और उन्हें सुरक्षा भी चाहिए। कांग्रेस महासचिव ने कहा था कि सीएम योगी आदित्यनाथ को अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी। जब तक न्याय नहीं मिलता, तब तक हम लड़ेंगे।

इससे पहले एक ट्वीट करके प्रियंका गांधी ने योगी आदित्यनाथ पर हमला बोलते हुए कहा था, यूपी के सीएम साहब ने संवाद से समस्याओं को हल करने की बात कही, तो क्या वो पीड़ित परिवार की बात सुनेंगे? हाथरस डीएम पर कार्रवाई कब? न्यायिक जांच के आदेश कब? न्याय की पहली सीढ़ी है पीड़ित लड़की की बात सुनना। वास्तविकता ये है कि बीजेपी आज भी लड़की के खिलाफ दुष्प्रचार कर रही है।

हमारे google news  को फॉलो करने के लिए यहाँ क्लिक करे  Twitter पेज को फॉलो करने के लिए यहाँ क्लिक करे  और Facebook पेज को भी फॉलो करने के लिए यहाँ क्लिक करे