पश्चिम बंगाल के उत्तरी 24 परगना में भाजपा नेता की गोली मारकर हत्या; कैलाश विजयवर्गीय ने की सीबीआई जांच की मांग

पश्चिम बंगाल के उत्तरी 24 परगना में भाजपा नेता की गोली मारकर हत्या; कैलाश विजयवर्गीय ने की सीबीआई जांच की मांग

पुलिस ने कहा कि पश्चिम बंगाल के एक स्थानीय भाजपा नेता की उत्तर 24 परगना जिले के टीटागढ़ के पास रविवार को दो बाइक सवार हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी।

दोनों ने शाम को बीटी रोड पर एक स्थानीय पार्षद मनीष शुक्ला पर गोलियां चलाईं, जिसके बाद उन्हें एक निजी अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

भाजपा नेतृत्व ने इस हत्या के लिए तृणमूल कांग्रेस को दोषी ठहराया, लेकिन सत्तारूढ़ दल ने आरोप को खारिज कर दिया।

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, “यह शर्मनाक है कि टीएमसी ने अब राजनीतिक विरोधियों के सफाए की राजनीति शुरू कर दी है। हमें स्थानीय पुलिस पर कोई भरोसा नहीं है। कहा हुआ।

भाजपा सांसद अर्जुन सिंह ने भी शुक्ला की हत्या के लिए टीएमसी को जिम्मेदार ठहराया और दावा किया कि कारबाइन से उन पर गोलियां चलाई गईं।

शुक्ला, जिन्होंने पिछले साल भगवा पार्टी में वापसी की, सिंह के करीबी माने जाते थे।

टीएमसी के वरिष्ठ नेता निर्मल घोष ने कहा कि यह घटना भाजपा के भीतर की भावना का परिणाम है और उनकी पार्टी के खिलाफ लगाए गए आरोप निराधार हैं।

रात करीब साढ़े नौ बजे शुक्ला को गोली मारने के बाद एक बड़ी पुलिस टुकड़ी को घटनास्थल पर भेजा गया।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, “हमने एक जांच शुरू कर दी है और सभी संभावित कोणों को देखेंगे।”

घटना के विरोध में भाजपा ने सोमवार को बैरकपुर क्षेत्र में 12 घंटे के बंद का आह्वान किया है।

इस बीच, राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति पर चिंता व्यक्त की और सोमवार सुबह अतिरिक्त मुख्य सचिव, गृह और डीजीपी को तलब किया।

हमारे google news  को फॉलो करने के लिए यहाँ क्लिक करे  Twitter पेज को फॉलो करने के लिए यहाँ क्लिक करे  और Facebook पेज को भी फॉलो करने के लिए यहाँ क्लिक करे